immunity booster

10 Natural Immunity Booster Food रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाए

स्वागत है आपका अजनाभ में। आज पूरा विश्व Corona Disease जो की एक वैश्विक महामारी है उससे जूझ रहा है, जिसका इलाज अभी तक संभव नहीं हो पाया है। ऐसे में इस बीमारी से बचाव ही हमारी प्राथमिकता है। पिछले कुछ दिनों के अनुभव बताते हैं की Covid 19 उन लोगो को कम प्रभावित करता है जिनकी immunity power अच्छी है। इस बीमारी का शिकार ज़्यादातर बूढ़े, बच्चे और वो लोग हुए हैं जिनका शरीर पहले से ही कमज़ोर है या फिर जिन्हे कोई अन्य बीमारी पहले से ही है। ऐसे में आवश्यकता है अच्छा आहार लेने की जो natural immunity booster हो और जिससे शरीर मजबूत बना रहे। Ayush Mantralaya के अनुसार भी आप नियमित रूप से आयुर्वेद और स्वदेसी भोजन का सेवन करें और काढ़ा पियें ताकि आपका शरीर मजबूत बना रहे।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ Immune System Booster Foods

1. खट्टे फल : ठंड लगने के बाद ज्यादातर लोग विटामिन सी का सेवन करते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाने में मदद करता है। विटामिन सी को सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ाने के लिए उत्तम माना जाता है, जो संक्रमण से लड़ने में महत्वपूर्ण हैं। लगभग सभी खट्टे फल में विटामिन सी उच्च मात्रा में होता हैं, इसलिए आप इस प्रकार के फलों को अपने भोजन में शामिल करें। कुछ फल जिनमे विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है वो नीचे दिए गए हैं।

  • संतरा
  • नीम्बू
  • अंगूर
  • नारंगी
  • किवी फल

2. लाल शिमला मिर्च : अगर आपको लगता है कि खट्टे फलों में किसी भी फल या सब्जी की तुलना में सबसे ज्यादा विटामिन सी होता है, तो ये सही नहीं है । लाल शिमला मिर्च में लगभग 3 गुना अधिक विटामिन सी होता है। वे Beta Carotene का एक समृद्ध स्रोत भी हैं। आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के अलावा, विटामिन सी आपको स्वस्थ त्वचा बनाए रखने में मदद कर सकता है। Beta Carotene, जिसे आपका शरीर विटामिन ए में परिवर्तित करता है, आपकी आंखों और त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

3. ब्रोकली : ब्रोकोली में विटामिन और खनिजों की भरपूर मात्रा होती है। इसमें विटामिन ए, सी, और ई के साथ-साथ फाइबर और कई अन्य एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। ब्रोकोली स्वास्थ्यप्रद सब्जियों में से एक है जिसे आप भोजन में शामिल कर सकते हैं। अगर आप इससे ज़्यादा से ज़्यादा फायदा चाहते हैं तो इसे कम पकाके सेवन करें। healthy immune system को बढ़ाने के साथ साथ ये कैंसर होने की आशंका को कम करता है और गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन बहुत अच्छा माना जाता है।

4. लहसुन : लहसुन दुनिया में लगभग हर व्यंजन में पाया जाता है। यह भोजन के लिए थोड़ा ज़िंग जोड़ता है और यह आपके स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। प्रारंभिक सभ्यताओं ने संक्रमण से लड़ने में इसके उपयोगी होने को मान्यता दी हुई है। लहसुन धमनियों के सख्त होने को भी धीमा कर सकता है, और यह निम्न रक्तचाप में मदद करता है।

5. अदरक : अदरक सूजन को कम करने में मदद कर सकता है, और ये गले में खराश और सूजन संबंधी बीमारियों को कम करने में मदद कर सकता है। अदरक पुराने दर्द को कम करता है और शरीर की रक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है।

6.पालक : पालक विटामिन सी से भरपूर है – यह कई एंटीऑक्सिडेंट और बीटा कैरोटीन से भरा हुआ है, जो दोनों हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली की संक्रमण से लड़ने की क्षमता को बढ़ा सकते हैं। ब्रोकोली के समान, पालक तब तक स्वास्थ्यप्रद होता है जब तक कि इसे कम से कम पकाया जाता है ताकि यह अपने पोषक तत्वों को बरकरार रखे। पालक वैसे भी भारतीयों को बहुत पसंद है। आप इसकी सब्जी और दाल बना सकते हैं और ये काफी स्वादिस्ट भी होता है।

7. बादाम : हिंदुस्तानी भोजन में बादाम काफी प्रयोग किया जाता है। इसमें काफी मात्रा में vitamin E होता है जो healthy immune system को बनाये रखने में मदद करता है। बादाम का इस्तेमाल मिठाइयों, सेवई और खीर जैसे पीते पकवानों में खूब होता है क्यूंकि ये healthy food होने के साथ साथ काफी स्वादिस्ट भी होता है।

8. पपीता : पपीता विटामिन सी से भरा एक और फल है। पपीते में पपैन नामक एक पाचक एंजाइम भी होता है जिसमें सूजन-रोधी प्रभाव होते हैं। पपीते में पोटेशियम, मैग्नीशियम और फोलेट की अच्छी मात्रा होती है, जो आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं।

9. ग्रीन टी : हरी और काली चाय दोनों में flavonoids भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो एक प्रकार का antioxidant है। ये शरीर को शुद्ध करता है और आपको बिमारियों से बचाता है। ग्रीन टी पीने से आप लम्बे समय तक युवा बने रहते हैं और कई बिमारियों से बच जाते हैं। 

10. हल्दी : हल्दी में जबरदस्त रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है। ये डॉयबिटीज को भी नियंत्रित रखने में सहायक होता है। इसके कई वैद्यकीय गुण होने के कारण इसे आयुर्वेद की दवाओं में प्रयोग में लाया जाता है। ये घाव की सूजन काम करता है, सर्दी खासी में फायदेमंद है और कैंसर जैसी बिमारियों से लड़ने में सहायक है।

हमें उम्मीद है की इन जानकारियों से आपको काफी फायदा मिलेगा और आप के स्वास्थ्य में बढ़ोतरी होगी। नियमित रूप से नयी जानकारियों के लिए अजनाभ को सब्सक्राइब करें। आपके सहयोग और प्यार के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद्। जय हिन्द।

सम्बंधित लेख :

Fitness Tips In Hindi For Men पुरुषों के लिए फिटनेस के कारगर तरीके

How To Boost Your Immunity आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं

कैसे बचें कोरोना से – जानें वो तरीके जिनसे आप कोरोना को रोक सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: